पंचतत्व में विलीन हुईं सुषमा स्वराज

पूर्व विदेश मंत्री और भारतीय जनता पार्टी की नेता रहीं सुषमा स्वराज बुधवार को पंचतत्व में विलीन हो गईं. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली स्थित लोधी रोड शमशान गृह में अंतिम संस्कार के दौरान उपराष्ट्रपति वैंकया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभा के अध्यक्ष ओम बिरला, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, बीजेपी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी समेत कई नेता मौजूद रहे , मंगलवार रात अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में 10.50 बजे सुषमा ने आखिरी सांस ली. 69 वर्षीय सुषमा का निधन हार्ट अटैक की वजह से हुई. सुषमा के अंतिम संस्कार में उनकी बेटी बांसुरी स्वराज और पति स्वराज कौशल ने आखिरी रिवाज पूरे किए.सुषमा के निधन के बाद दिल्ली और हरियाणा की सरकार ने दो दिन का शोक घोषित किया है. दिल्ली में पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार हुआ. नरेंद्र मोदी ने सुषमा स्वराज के घर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी. इस दौरान प्रधानमंत्री बेहद गमगीन दिखे और उनकी आंखों से आंसू छलक आए. पीएम से पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू सहित कई वरिष्ठ नेताओं ने सुषमा स्वराज को श्रद्धांजलि दी.