रिटायर्ड सब-इंस्पेक्टर को सड़क पर पिट-पिट कर मर डाला

उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में गुंडों ने एक रिटायर्ड पुलिस सब-इंस्पेक्टर अब्दुल समद खान को पीट-पीटकर मार डाला. उनकी उम्र 70 बरस थी. यहां शहर में चिरकुटी थाना क्षेत्र है. वहीं का ये वाकया है. लोग अगल-बगल से गुजरते रहे. सड़क पर अब्दुल समद पिटते रहे. किसी ने भी उनकी मदद करने की परवाह नहीं की. कुछ लोग छत पर खड़े होकर ये सब देखते रहे. कुछ पास से साइकिल और बाइक चलाते गुजर गए. कुछ ने चलते-चलते कदमों को थोड़ा धीमा किया और फिर निकल लिए. गुंडे जब मार-पीटकर, अधमरा करके चले गए, तो लोग अब्दुल के पास आए. वो अधमरी हालत में गली के एक किनारे नाले के पास पड़े थे. कपड़ों पर खून लगा था. माथा फूटा हुआ था. बांयें हाथ पर खूब सारा खून था. शायद हाथ टूट चुका था. पास में जमीन पर भी ढेर सारा खून बिखरा पड़ा था. अब्दुल को अस्पताल पहुंचाया गया. मगर वो बच नहीं सके.

इस घटना का विडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इलाहाबाद हाई कोर्ट ने इस घटना पर स्व संज्ञान लिया है. कोर्ट ने 5 सितंबर तक पुलिस से इस घटना की रिपोर्ट मांगी है.

अब्दुल रोजमर्रा की जरूरत का सामान खरीदने घर से बाहर निकले थे. घर के पास ही गुंडों ने उन्हें पकड़ा और पीट-पीटकर उनकी हत्या कर दी. ये संपत्ति के विवाद का मामला बताया जा रहा है. पुलिस का कहना है कि अपराधी अब्दुल के पड़ोस में रहते थे. उन्होंने पहले भी कई बार अब्दुल पर हमला किया था. पुलिस के मुताबिक, जिसने अब्दुल को मारा वो हिस्ट्रीशीटर रहा है. उसके ऊपर पहले भी हत्या, लूट और अपहरण के मामले दर्ज हैं.

जो विडियो वायरल हुआ है, उसमें अब्दुल अपनी साइकिल के साथ दिखते हैं. गुलाबी रंग की टी शर्ट पहने और गले में सफेद गमछा डाले एक शख्स हाथ में डंडा लेकर अब्दुल पर अटैक करता है. वो बचने की कोशिश करते हैं, लेकिन फिर नीचे जमीन पर गिर जाते हैं. हमलावर लगातार डंडे से उन्हें पीट रहा है. अगल-बगल के लोग झांककर ये सब होते हुए देख रहे हैं.

अब्दुल समद प्रतापगढ़ के रहने वाले थे. 2006 में पुलिस सेवा से रिटायर होने के बाद वो इलाहाबाद में ही बस गए थे. उनके परिवार में पत्नी के अलावा एक बेटा और बेटी भी है.

पुलिस के मुताबिक 3 पीटने वालों समेत कुल 10 लोगों के कत्ल की FIR दर्ज की गई है. एक को गिरफ्तार किया गया है.

एसपी (सिटी) ब्रजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया, ‘अब तक की जांच में ये पता चला है कि ये एक प्रॉपर्टी के झगड़े से जुड़ा मामला था. अब्दुल समद खान पर मोहम्मद यूसुफ, उसके भाई मोहम्मद सेबू और रिश्तेदार इब्ने ने हमला किया. उन्हें बुरी तरह पीटा गया. उन्हें नजदीक के प्राइवेट हॉस्पिटल ले जाया गया लेकिन उनकी मौत हो गई,शिवकुटी पुलिस स्टेशन में FIR दर्ज हुई है. जुनैद, उसके बेटे यूसुफ-सेबू, रिश्तेदार इब्ने के साथ 6 और लोगों पर समद खान के कत्ल का आरोप है. पुलिस के मुताबिक यूसुफ गिरफ्तार कर लिया गया है. जुनैद एक हिस्ट्री-शीटर है और कत्ल की कोशिश समेत करीब 20 मुकदमे उसके ऊपर दर्ज हैं.